गाना / Title: संसार है इक नदिया, सुख-दुख दो किनारे हैं - sa.nsaar hai ik nadiyaa, sukh-dukh do kinaare hai.n

चित्रपट / Film: Raftaar

संगीतकार / Music Director: Sonik-Omi

गीतकार / Lyricist: Abhilash

गायक / Singer(s): मुकेश-(Mukesh)आशा भोसले-(Asha)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



संसार है इक नदिया, दुःख-सुख दो किनारे हैं
न जाने कहाँ जाएं, हम बहते धारे हैं

चलते हुए जीवन की, रफ़्तार में इक लय है
इक राग में इक सुर में, सँसार की हर शय है
सँसार की हर शय है ...
इक तार पे गर्दिश में, ये चाँद सितारे हैं

धरती पे अम्बर की आँखों से बरसती है
इक रोज़ यही बूँदें, फिर बादल बनती हैं -२
इस बनने बिगड़ने के दस्तूर में सारे हैं

कोई भी किसी के लिए, अपना न पराया है
रिस्श्ते के उजाले में, हर आदमी साया है -२
कुदरत के भी देखो तो, ये खेल पुराने हैं

है कौन वो दुनिया में, न पाप किया जिसने
बिन उलझे काँतों से, हैं फूल चुने किसने
हैं फूल चुने किसने ...
बे-दाग नहीं कोई, यहाँ पापी सारे हैं



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

sa.nsaar hai ik nadiyaa, duHkh-sukh do kinaare hai.n
na jaane kahaa.N jaae.n, ham bahate dhaare hai.n

chalate hue jiivan kii, raftaar me.n ik lay hai
ik raag me.n ik sur me.n, sa.Nsaar kii har shay hai
sa.Nsaar kii har shay hai ...
ik taar pe gardish me.n, ye chaa.Nd sitaare hai.n

dharatii pe ambar kii aa.Nkho.n se barasatii hai
ik roz yahii buu.Nde.n, phir baadal banatii hai.n -2
is banane biga.Dane ke dastuur me.n saare hai.n

koii bhii kisii ke li_e, apanaa na paraayaa hai
risshte ke ujaale me.n, har aadamii saayaa hai -2
kudarata ke bhii dekho to, ye khel puraane hai.n

hai kaun vo duniyaa me.n, na paap kiyaa jisane
bin ulajhe kaa.Nto.n se, hai.n phuul chune kisane
hai.n phuul chune kisane ...
be-daag nahii.n koii, yahaa.N paapii saare hai.n