गाना / Title: तनहाई - Tanhayee, Tanhayee (Dil Chahta Hai)

चित्रपट / Film: Dil Chahta Hai

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: जावेद अख्तर-(Javed Akhtar)

गायक / Singer(s): सोनु निगम-(Sonu Nigam)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
तनहाई, तनहाई
दिल के रास्ते में कैसी ठोकर मैने खाई
टूटे ख्वाब सारे एक मायूसी है छाई
हर खुशी सो गई, ज़िन्दगी खो गई
तुमको जो प्यार किया, मैने तो सज़ा में पाई
तनहाई, तनहाई, मिलों है फैली हुई तनहाई

ख्वाब में देखा था एक आंचल मैने अपने हाथों में
अब टूटें सपनों के शीशे चुभते हैं इन आखों में
कल कोई था यहीं, अब कोई भी नहीं
बन के नागिन जैसे है सांसों में लहराई
तनहाई, तनहाई, पलकों पे कितने आंसू है लाई

क्यों ऐसी उम्मीद की मैने जो ऐसे नाकाम हुई
दूर बनाई थी मंज़िल तो रस्ते में ही शाम हुई
अब कहाँ जाऊँ मैं, किसको समझाऊँ मैं
क्या मैने चाहा था और क्यों किस्मत में आई
तनहाई, तनहाई, जैसे अंधेरों की हो गहराई

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Tanahaai, tanahaai
Dil ke raaste men kaisi thhokar maine khaai
Tute khwaab saare ek maayusi hai chhaai
Har khushi so gi, zindagi kho gi
Tumako jo pyaar kiya, maine to saza men paai
Tanahaai, tanahaai, milon hai faili hui tanahaai

Khwaab men dekha tha ek anchal maine apane haathon men
Ab tuten sapanon ke shishe chubhate hain in akhon men
Kal koi tha yahin, ab koi bhi nahin
Ban ke naagin jaise hai saanson men laharaai
Tanahaai, tanahaai, palakon pe kitane ansu hai laai

Kyon aisi ummid ki maine jo aise naakaam hui
Dur banaai thi mnzil to raste men hi shaam hui
Ab kahaan jaaun main, kisako samajhaaun main
Kya maine chaaha tha aur kyon kismat men ai
Tanahaai, tanahaai, jaise andheron ki ho gaharaai

Related content: