गाना / Title: ना छेडो कल के अफसाने - Na Chhedo Kal Ke Afsane

चित्रपट / Film: रात और दिन-(Raat Aur Din)

संगीतकार / Music Director: शंकर - जयकिशन-(Shankar-Jaikishan)

गीतकार / Lyricist: शैलेन्द्र-(Shailendra)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
ना छेड़ो कल के अफ़साने, करो इस रात की बातें 
छलकने दो ये पैमाने, करो इस रात की बातें 

ना फिर ये रात आयेगी, ना दिल उछलेगा सीने में 
ना होगी रंग पे महफ़िल, ना ऐसा रंग जीने में 
मिलेंगे कब ये दीवाने, करो इस रात की बातें 

हर एक दिन कल का झगड़ा है, हर एक दिन कल का है रोना
ये घड़ीयां रात की तुम भी, ना औरों की तरह खोना
जो कल होगा खुदा जाने, करो इस रात की बातें 

करो वो बात जिससे बोझ दिल का दूर हो जाये 
करो वो ज़िक्र जिससे बेकसी काफूर हो जाये 
मिले हैं दिल को बहलाने, करो इस रात की बातें

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Na chhedo kal ke afsaane, karo is raat ki baaten 
Chhalakane do ye paimaane, karo is raat ki baaten 

Na fir ye raat ayegi, na dil uchhalega sine men 
Na hogi rng pe mahafil, na aisa rng jine men 
Milenge kab ye diwaane, karo is raat ki baaten 

Har ek din kal ka jhagada hai, har ek din kal ka hai rona
Ye ghadiyaan raat ki tum bhi, na auron ki tarah khona
Jo kal hoga khuda jaane, karo is raat ki baaten 

Karo wo baat jisase bojh dil ka dur ho jaaye 
Karo wo jikr jisase bekasi kaafur ho jaaye 
Mile hain dil ko bahalaane, karo is raat ki baaten

Related content: