गाना / Title: तुम से दूर रहके हम ने जाना प्यार क्या है - Tumse Door Rehke Humne Jana Pyar Kya Hai

चित्रपट / Film: अदालत-(Adalat)

संगीतकार / Music Director: कल्याणजी - आनंदजी-(Kalyanji-Anandji)

गीतकार / Lyricist: गुलशन बावरा-(Gulshan Bawra)

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
तुम से दूर रह के हमने जाना प्यार क्या है
दिल ने माना यार क्या है

तुमको ना पाके पहलू में लगता था यूँ 
जीते है किसलिए और जिंदा है क्यों 
हम भी रहते थे बेचैन से हरघडी 
बिन तुम्हारे तो वीरान थी ज़िन्दगी 

दूरियाँ किसलिए, मिल गये है जो हम 
अब तो होने दो अरमान पूरे सनम 
वक़्त आनेपर मीट जायेंगी दूरियाँ 
जब न होंगी ज़माने की मजबूरियाँ

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Tum se dur rah ke hamane jaana pyaar kya hai
Dil ne maana yaar kya hai

Tumako na paake pahalu men lagata tha yun 
Jite hai kisalie aur jinda hai kyon 
Ham bhi rahate the bechain se haraghadi 
Bin tumhaare to wiraan thi jindagi 

Duriyaan kisalie, mil gaye hai jo ham 
Ab to hone do aramaan pure sanam 
Wakt anepar mit jaayengi duriyaan 
Jab n hongi jmaane ki majaburiyaan

Related content: