गाना / Title: शीशा हो या दिल हो - Sheesha Ho Ya Dil Ho (Aasha)

चित्रपट / Film: आशा-(Aasha)

संगीतकार / Music Director: लक्ष्मीकांत - प्यारेलाल-(Laxmikant-Pyarelal)

गीतकार / Lyricist: आनंद बक्षी-(Anand Bakshi)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
शीशा हो या दिल हो आख़िर टूट जाता है
लब तक आते आते हाथों से साग़र छूट जाता है

काफ़ी बस अरमान नहीं, कुछ मिलना आसान नहीं 
दुनिया की मजबूरी है, फिर तकदीर ज़रूरी है
ये दो दुश्मन हैं ऐसे, दोनो राज़ी हो कैसे
एक को मनाऊँ तो, दूजा रूठ जाता है

बैठे थे किनारे पे, मौजों के इशारे पे
हम खेले तूफ़ानों से, इस दिल के अरमानों से
हमको ये मालूम न था, कोई साथ नहीं देता
माँझी छोड़ जाता है, साहील छूट जाता है

दुनिया एक तमाशा है, आशा और निराशा है
थोड़े फूल हैं, काँटे हैं, जो तकदीर ने बाटे है
अपना अपना हिस्सा है, अपना अपना किस्सा है
कोई लुट जाता है, कोई लूट जाता है

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
Shisha ho ya dil ho akhir tut jaata hai
Lab tak ate ate haathon se saagar chhut jaata hai

Kaafi bas aramaan nahin, kuchh milana asaan nahin 
Duniya ki majaburi hai, fir takadir jruri hai
Ye do dushman hain aise, dono raaji ho kaise
Ek ko manaaun to, duja ruthh jaata hai

Baithhe the kinaare pe, maujon ke ishaare pe
Ham khele tufaanon se, is dil ke aramaanon se
Hamako ye maalum n tha, koi saath nahin deta
Maanjhi chhod jaata hai, saahil chhut jaata hai

Duniya ek tamaasha hai, asha aur niraasha hai
Thode ful hain, kaante hain, jo takadir ne baate hai
Apana apana hissa hai, apana apana kissa hai
Koi lut jaata hai, koi lut jaata hai

Related content: