गाना / Title: तमाम उम्र तेरा इंतज़ार हमने किया - tamaam umr teraa i.ntazaar hamane kiyaa

चित्रपट / Film: Suraag (Non-Film)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Hafeez Hoshiarpuri

गायक / Singer(s): Ghulam Ali

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




तेरी बातें ही सुनाने आये
दोस्त भी दिल ही दुखाने आये
फूल खिलते हैं तो हम सोचते हैं
तेरे आने के ज़माने आये
क्या कहीं फिर कोई बस्ती उजड़ी
लोग क्यूँ जश्न मनाने आये
सो रहो मौत के पहलू में 'फ़राज़'
नींद किस वक़्त न जाने आये

तमाम उम्र तेरा इंतज़ार हमने किया
इस इंतज़ार में किस किससे प्यार हमने किया


कोई मिलता है तो अब अपना पता पूछता हूँ
मैं तेरी खोज में तुझसे भी परे जा निकला
तोड़ कर देख लिया आईना-ए-दिल तूने
तेरी सूरत के सिवा और बता क्या निकला

तलाश-ए-दोस्त को इक उम्र चाहिये ऐ दोस्त
के एक उम्र तेरा इंतज़ार हमने किया


दबा के कब्र में सब चल दिये दुआ न सलाम
ज़रा सी देर में क्या हो गया ज़माने को
'क़मर' ज़रा भी नहीं तुमको ख़ौफ़-ए-रुस्वाई
'क़मर' ज़रा भी नहीं तुझको ख़ौफ़-ए-रुस्वाई
के चाँदनी में चले हो उन्हें मनाने को

तेरे ख़याल में दिल शादमा रहा बरसों
तेरे हुज़ूर इसे सोगवार हमने किया

ये तिश्नगी है के उनसे क़रीब रह कर भी
'हफ़ीज़' याद उन्हें बार बार हमने किया



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


terii baate.n hii sunaane aaye
dost bhii dil hii dukhaane aaye
phuul khilate hai.n to ham sochate hai.n
tere aane ke zamaane aaye
kyaa kahii.n phir ko_ii bastii uja.Dii
log kyuu.N jashn manaane aaye
so raho maut ke pahaluu me.n 'faraaz'
nii.nd kis waqt na jaane aaye

tamaam umr teraa i.ntazaar hamane kiyaa
is i.ntazaar me.n kis kisase pyaar hamane kiyaa


ko_ii milataa hai to ab apanaa pataa puuchhataa huu.N
mai.n terii khoj me.n tujhase bhii pare jaa nikalaa
to.D kar dekh liyaa aa_iinaa-e-dil tuune
terii suurat ke siwaa aur bataa kyaa nikalaa

talaash-e-dost ko ik umr chaahiye ai dost
ke ek umr teraa i.ntazaar hamane kiyaa


dabaa ke kabr me.n sab chal diye du_aa na salaam
zaraa sii der me.n kyaa ho gayaa zamaane ko
'qamar' zaraa bhii nahii.n tumako Kauf-e-ruswaaii
'qamar' zaraa bhii nahii.n tujhako Kauf-e-ruswaaii
ke chaa.Ndanii me.n chale ho unhe.n manaane ko

tere Kayaal me.n dil shaadamaa rahaa baraso.n
tere huzuur ise sogawaar hamane kiyaa

ye tishnagii hai ke unase qariib rah kar bhii
'hafiiz' yaad unhe.n baar baar hamane kiyaa