गाना / Title: खोते न हों जो होश ... चलो पी लें कि यार आये न आये - khote na ho.n jo hosh ... chalo pii le.n ki yaar aaye na aaye

चित्रपट / Film: Rubayee (Non-Film)

संगीतकार / Music Director: Pankaj Udhas

गीतकार / Lyricist: Zameer Kazmi, Omar Khaiyyam

गायक / Singer(s): Pankaj Udhas

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



खोते न हों जो होश उन्हें घर बुला के पी
या फिर बुतों को सामने, अपने बिठा के पी
बेहद ना पी, ना बोल बहुत, जोश में न आ
रुक रुक के पी, सुकून से पी, सर झुका के पी

दौलत है फ़क़त चार दिनों की पी ले
इज़्ज़त है फ़क़त चार दिनों की पी ले
है वक़्त शब-ओ-रोज़ तबाही की तरफ़
मोहलत है फ़क़त चार दिनों की पी ले

चलो पी लें के यार आये न आये
ये मौसम बार बार, आये न आये

गुलाबों की तरह तुम ताज़ा रहना
ज़माने में बहार आये न आये

ये सोचा है कि उसको भूल जायें
अब इस दिल को क़रार आये न आये

"ज़मीर" इस ज़िन्दगी से क्यूं ख़फ़ा हो
इसे फिर तुमपे प्यार आये न आये



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

khote na ho.n jo hosh unhe.n ghar bulaa ke pii
yaa phir buto.n ko saamane, apane biThaa ke pii
behad naa pii, naa bol bahut, josh me.n na aa
ruk ruk ke pii, sukuun se pii, sar jhukaa ke pii

daulat hai faqat chaar dino.n kii pii le
izzat hai faqat chaar dino.n kii pii le
hai waqt shab-o-roz tabaahii kii taraf
mohalat hai faqat chaar dino.n kii pii le

chalo pii le.n ke yaar aaye na aaye
ye mausam baar baar, aaye na aaye

gulaabo.n kii tarah tum taazaa rahanaa
zamaane me.n bahaar aaye na aaye

ye sochaa hai ki usako bhuul jaaye.n
ab is dil ko qaraar aaye na aaye

"zamiir" is zindagii se kyuu.n Kafaa ho
ise phir tumape pyaar aaye na aaye