गाना / Title: ज़मीं भी चुप है ... मासूम दिल की हाँ पे - zamii.n bhii chup hai ... maasuum dil kii haa.N pe

चित्रपट / Film: Maashooqaa

संगीतकार / Music Director: Roshan

गीतकार / Lyricist: Shailendra

गायक / Singer(s): मुकेश-(Mukesh)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ज़मीं भी चुप है आसमाँ भी चुप है किसी की दुनिया उजड़ रही है
बता ऐ मालिक ये कैसी क़िस्मत जो बनते-बनते बिगड़ रही है

मासूम दिल की हाँ पे ना कह दिया किसी ने
और बस इसी बहाने ग़म दे दिया किसी ने

बाद-ए-सबा जो आई और फूल मुस्कराए -२
सहला के ज़ख़्म मेरे बहला दिया किसी ने
और बस इसी बहाने ...

मालूम क्या था हमको है रंज-ओ-ग़म की दुनिया -२
सौ-सौ सितम उठाए दो दिन की ज़िन्दगी में
और बस इसी बहाने ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

zamii.n bhii chup hai aasamaa.N bhii chup hai kisii kii duniyaa uja.D rahii hai
bataa ai maalik ye kaisii qismat jo banate-banate biga.D rahii hai

maasuum dil kii haa.N pe naa kah diyaa kisii ne
aur bas isii bahaane Gam de diyaa kisii ne

baad-e-sabaa jo aa_ii aur phuul muskaraa_e -2
sahalaa ke zaKm mere bahalaa diyaa kisii ne
aur bas isii bahaane ...

maaluum kyaa thaa hamako hai ra.nj-o-Gam kii duniyaa -2
sau-sau sitam uThaa_e do din kii zindagii me.n
aur bas isii bahaane ...