गाना / Title: हवा है ठण्डी ... उल्फ़त की ज़िंदगी के जो - hawaa hai ThaNDii ... ulfat kii zi.ndagii ke jo

चित्रपट / Film: Hangaamaa

संगीतकार / Music Director: सी. रामचंद्र-(C Ramchandra)

गीतकार / Lyricist: Rajinder Krishan

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)Chitalkarमोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



चि:	हवा है ठण्डी ठण्डी चाँदनी है यार है हम हैं
ल:	मगर है ज़िंदगी सौ साल की सौ साल तो कम हैं
	उल्फ़त की ज़िंदगी के जो साल हों हज़ार
	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार
दो:	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार

र:	दो दिन की ज़िंदगी में क्या क्या करे कोई
	क्या क्या करे कोई
चि:	दो दिन में क्या जिये कोई क्या मरे कोई
	क्या क्या करे कोई
र:	दुनिया की एक रात हो आशिक़ की चार चार -२

दो:	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार
	उल्फ़त की ज़िंदगी के जो साल हों हज़ार
	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार

ल:	ओ बातों में बीत जायें
	( बातों में बीत जायें ये मौसम-ए-जवानी
	कैसी बनाये तूने मालिक ये ज़िंदगानी
	मालिक ये ज़िंदगानी ) -२
	बाज़ी बहुत है छोटी लम्बी है जीत हार -२

दो:	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार
	( उल्फ़त की ज़िंदगी के जो साल हों हज़ार
	तुम हमसे हम भी तुमसे जी भर के करें प्यार करें प्यार ) -२



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

chi:	hawaa hai ThaNDii ThaNDii chaa.Ndanii hai yaar hai ham hai.n
la:	magar hai zi.ndagii sau saal kii sau saal to kam hai.n
	ulfat kii zi.ndagii ke jo saal ho.n hazaar
	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar
do:	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar

ra:	do din kii zi.ndagii me.n kyaa kyaa kare ko_ii
	kyaa kyaa kare ko_ii
chi:	do din me.n kyaa jiye ko_ii kyaa mare ko_ii
	kyaa kyaa kare ko_ii
ra:	duniyaa kii ek raat ho aashiq kii chaar chaar -2

do:	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar
	ulfat kii zi.ndagii ke jo saal ho.n hazaar
	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar

la:	o baato.n me.n biit jaaye.n
	( baato.n me.n biit jaaye.n ye mausam-e-jawaanii
	kaisii banaaye tuune maalik ye zi.ndagaanii
	maalik ye zi.ndagaanii ) -2
	baazii bahut hai chhoTii lambii hai jiit haar -2

do:	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar
	( ulfat kii zi.ndagii ke jo saal ho.n hazaar
	tum hamase ham bhii tumase jii bhar ke kare.n pyaar kare.n pyaar ) -2