गाना / Title: न किसी की आँख का नूर हूँ - na kisii kii aa.Nkh kaa nuur huu.N

चित्रपट / Film: Golden Greatest of Mehdi Hassan (Non-Film)

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist: Bahadur Shah Zafar

गायक / Singer(s): Mehdi Hasan

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



न किसी की आँख का नूर हूँ न किसी के दिल का क़रार हूँ
जो किसी के काम न आ सके मैं वो एक मुश्त-ए-ग़ुबार हूँ

मेरा रंग रूप बिगड़ गया मेरा यार मुझसे बिछड़ गया
जो चमन ख़िज़ां से उजड़ गया मैं उसी की फ़स्ल-ए-बहार हूँ

प-ए-फ़ातेहा कोई आये क्यूँ कोई चार फूल चढ़ाये क्यूँ
कोई आ के शम्मा जलाये क्यूँ मैं वो बेकसी का मज़ार हूँ

मैं नहीं हूँ नग़्मा-ए-जाँ-फ़ज़ा मुझे सुन के कोई करेगा क्या
मैं वहीद रोग की हूँ सदा मैं बड़े दुखी की पुकार हूँ

न तो मैं किसी का हबीब हूँ न तो मैं किसी का रक़ीब हूँ
जो बिगड़ गया वो नसीब हूँ जो उजड़ गया वो दयार हूँ



मैं कहाँ रहूँ मैं कहाँ बसूँ ना ये मुझसे ख़ुश ना वो मुझसे ख़ुश
मैं ज़मीं की पीठ का बोझ हूँ मैं फ़लक़ के दिल का ग़ुबार हूँ



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

na kisii kii aa.Nkh kaa nuur huu.N na kisii ke dil kaa qaraar huu.N
jo kisii ke kaam na aa sake mai.n vo ek musht-e-Gubaar huu.N

meraa ra.ng ruup biga.D gayaa meraa yaar mujhase bichha.D gayaa
jo chaman Kizaa.n se uja.D gayaa mai.n usii kii fasl-e-bahaar huu.N

pa-e-faatehaa ko_ii aaye kyuu.N ko_ii chaar phuul cha.Dhaaye kyuu.N
ko_ii aa ke shammaa jalaaye kyuu.N mai.n vo bekasii kaa mazaar huu.N

mai.n nahii.n huu.N naGmaa-e-jaa.N-fazaa mujhe sun ke ko_ii karegaa kyaa
mai.n wahiid rog kii huu.N sadaa mai.n ba.De dukhii kii pukaar huu.N

na to mai.n kisii kaa habiib huu.N na to mai.n kisii kaa raqiib huu.N
jo biga.D gayaa vo nasiib huu.N jo uja.D gayaa vo dayaar huu.N



mai.n kahaa.N rahuu.N mai.n kahaa.N basuu.N naa ye mujhase Kush naa vo mujhase Kush
mai.n zamii.n kii piiTh kaa bojh huu.N mai.n falaq ke dil kaa Gubaar huu.N