गाना / Title: सुनो सुनो ऐ दुनिया वालोँ बापू की ये अमर कहानी - suno suno ai duniyaa vaalo.N baapuu kii ye amar kahaanii

चित्रपट / Film: non-Film

संगीतकार / Music Director:

गीतकार / Lyricist:

गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          




सुनो सुनो ऐ दुनिया वालोँ बापू की ये अमर कहानी
वह बापू जो पूज्य है इतना जितना गंगा मां का पानी
पोर्बन्दर गुजरात देश में एक ऋषी ने जन्म लिय

१.
बचपन खेल कूद में गुजरा लन्दन जाकर विद्या पाई
बैरिस्टर बन अफ़्रीका में जाकर अपनी धाक जमाई
लेकिन जो प्राणी दुनिया में अमर कहाने आते है
वो कब माया मोह में फस कर अपना समय मंगवाते है
सुनो सुनो ...

२.
अफ़्रीका में हिन्दी जन की बड़ी दुर्दशा पाई
गोरे राज से टक्कर लेकर सत्य की ज्योती जलाई
फिर भारत की सेवा करने अपने देश में आया
साबरमती में सत्याग्रह का आश्रम आन बनाया
और खिलाफ़त कान्फ़्रेंस में सभापति का दर्जा पाया
इस्लामी अधिकार की रक्षा में भी हाथ बटाया
हिन्दू मुस्लिम दोनों उसकी आँखों के तारे थे
दुनिया के सारे ही मज़हब बापू को प्यारे थे
सुनो सुनो ...

३.
भारत कौमी कांग्रेस की ऐसी धूम मचाई
कौमी झण्डे के नीचे फिर जनता दौड़ी आई
खादी का प्रचार किया फिर घर घर खादी आई
और विदेशी माल की होली गाँधी ने जलवायी
चरख की आवाज़ जो गूँजी, हुई मशीनें ठण्डी
और शान से लहराई, भारत की तिरंगी झंडी

४.
फिर पूर्ण स्वराज्य का नारा जा लाहोर पुकारा
आज़ादी का वीर सिपाही कभी न हिम्मत हारा
फिर डांडी पर जा कर आपने हाथो नमक बनाया
सौर देश को स्त्यग्रह का सुन्दर सबक पढाया
भारातवासी जपते थे फिर गाँधी नाम की माला
चालीस करोड़ दिलों पे छाया एक लंगोटी वाला
सुनो सुनो ...

५.
सच्चाई का अटल पुजारी जिसने कभी न हिम्मत हारी
सरकारी कानून तोड़ कर दुनिया के आराम छोड़ कर
देश के खातिर जेल गया और अपने सुख पर खेल गया
सुनो सुनो ...

६.
हरिजनों का मान बढ़ाने की खातिर व्रत रखा
गाँधी ने दुनिया के आगे एक नया मत रखा
गाँव गाँव में हरिजानों की हालत देखी भाली
हारिजन नाम से हरि सेवक ने इक अखबार निकाली
कांग्रेस की बागडोर फिर वीर जवाहर को दे कर
शुरू किया बापू ने आपना ग्राम सुधार का चक्कर
सुनो सुनो ...

७.
एक नई आवाज़ जो आई शुरू हुई एक नई लड़ाई
गूँजा फिर बापू का नारा छोड़ो हिन्दुस्तान हमारा
फिर आई इक जेल यात्रा जेलों से कब डरता था वो
आज़ादी का परवाना था आज़ादी पर मरता था वो
सुनो सुनो ...

८.
जेल के अन्दर होनी ने फिर अपना तीर चलाया
बापू जी की अर्ध्दाँगनी को अन्त समय बुलावा आया
जेल के अन्दर खामोशी से देवी की चिता जलाई
जनता आपनी माँ के अन्तिम दर्शन भी करने ना पाई
सुनो सुनो ...

९.
हिन्दू मुस्लिम के सीनो में फिर भड़की नफ़रत की ज्वाला
जिस को देख कर दुखी हुवा कुरान और गीता का मतवाला
नवाखली में खून की होली हैवानों ने खेली
दया की मूरत बापू से ये पीड़ा गई न झेली
तन पे लंगोटी हाथ मे डण्डा होंठों पे थी प्रेम की बानी
नगर-नगर पैदल फिरता था अस्सी साल का बूढ़ा प्राणी
सन सैंतालीस पन्द्रह अगस्त को आज़ादी का दिन जब आया
अपने देश में अपना झण्डा धूम-धाम से लहराया
लेकिन उस दिन प्यारा बापू भारत का उजियाला बापू
दूर दिल्ली से नवाखली में कमज़ोरी की रखवाली में
अपनी जान लड़ाये था और अपना आप छुपाए था
सुनो सुनो ...

१०.
कलकत्ते से दिल्ली आ कर उस नगरी का मान बढ़ाया
साँझ सवेरे राम नाम का बिरला घार में दिया जलाया
रघुपति राघव राजा राम ईश्वर अल्लाह तेरे नम
बापू का आधार यही था बापू का प्रचार यही था
सुनो सुनो ...

११.
तीस जनवरी शाम को बापू बिरला घर से बाहर आये
प्रार्थना स्थान की जानिब धीरे-धीरे कदम बढ़ाये
लेकिन उस दिन होनी अपना रूप बदल कर आई
और अहिंसा के सीने पर हिंसा ने गोली बरसाई
बापू ने कहा राम-राम और जग से किया किनारा
राम के मन्दिर में जा पहुँचा श्रीराम का प्यारा
जाओ बापू जाओ बापू रहेगा नाम तुम्हारा
बापू तुम ने प्राण दिया और मौत की शान बढ़ाई
तुम ने आपना खून दिया और प्रेम की ज्योति जलाई
जय बापू की जय गाँधी की बोलो सब जन जय गाँधी
जिस ने हिन्दू मुस्लिम में इक डोर प्यार की बाँधी
याद रहे बापू की कहानी भूल न इसको जाए हम
बापू ने जो दिया जलाया उसकी ज्योति बढ़ाएं हम
जय बापू की जय गाँधी की बोलो सब जन जय गाँधी
जय गाँधी जय गाँधी जय गाँधी जय गाँधी
सुनो सुनो ...





        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      


suno suno ai duniyaa vaalo.N baapuu kii ye amar kahaanii
vah baapuu jo puujya hai itanaa jitanaa g.ngaa maa.n kaa paanii
porbandar gujaraat desh me.n ek RRishhii ne janm liya

1.
bachapan khel kuud me.n gujaraa landan jaakar vidyaa paaii
bairisTar ban afriikaa me.n jaakar apanii dhaak jamaaii
lekin jo praaNii duniyaa me.n amar kahaane aate hai
vo kab maayaa moha me.n phas kar apanaa samay ma.ngavaate hai
suno suno ...

2.
afriikaa me.n hindii jan kii ba.Dii durdashaa paa_ii
gore raaj se Takkar lekar satya kii jyotii jalaa_ii
phir bhaarat kii sevaa karane apane desh me.n aayaa
saabaramatii me.n satyaagrah kaa aashram aan banaayaa
aur khilaafat kaanfre.ns me.n sabhaapati kaa darjaa paayaa
islaamii adhikaar kii rakshaa me.n bhii haath baTaayaa
hinduu muslim dono.n usakii aa.Nkho.n ke taare the
duniyaa ke saare hii mazahab baapuu ko pyaare the
suno suno ...

3.
bhaarat kaumii kaa.ngres kii aisii dhuuma machaa_ii
kaumii jhaNDe ke niiche phir janataa dau.Dii aa_ii
khaadii kaa prachaar kiyaa phir ghar ghar khaadii aa_ii
aur videshii maal kii holii gaa.Ndhii ne jalavaayii
charakh kii aavaaz jo guu.Njii, huii mashiine.n ThaNDii
aur shaan se laharaaii, bhaarat kii tira.ngii jha.nDii

4.
phir puurNa svaraajya kaa naaraa jaa laahora pukaaraa
aazaadii kaa viir sipaahii kabhii na himmat haaraa
phir Daa.nDii par jaa kar aapane haatho namak banaayaa
saur desh ko styagrah kaa sundar sabak paDhaayaa
bhaaraatavaasii japate the phir gaa.Ndhii naam kii maalaa
chaaliis karo.D dilo.n pe chhaayaa ek la.ngoTii vaalaa
suno suno ...

5.
sachchaa_ii kaa aTal pujaarii jisane kabhii na himmat haarii
sarakaarii kaanuun to.D kar duniyaa ke aaraam chho.D kar
desh ke khaatir jel gayaa aur apane sukh par khel gayaa
suno suno ...

6.
harijano.n kaa maan ba.Dhaane kii khaatir vrata rakhaa
gaa.Ndhii ne duniyaa ke aage eka nayaa mat rakhaa
gaa.Nv gaa.Nv me.n harijaano.n kii haalat dekhii bhaalii
haarijan naam se hari sevak ne ik akhabaar nikaalii
kaa.ngresa kii baagaDora phir viir javaahar ko de kar
shuruu kiyaa baapuu ne aapanaa graam sudhaar kaa chakkar
suno suno ...

7.
ek na_ii aavaaz jo aa_ii shuruu hu_ii ek na_ii la.Daa_ii
guu.Njaa phir baapuu kaa naaraa chho.Do hindustaan hamaaraa
phira aa_ii ik jel yaatraa jelo.n se kab Darataa thaa vo
aazaadii kaa paravaanaa thaa aazaadii para marataa thaa vo
suno suno ...

8.
jel ke andar honii ne phir apanaa tiir chalaayaa
baapuu jii kii ardhdaa.Nganii ko ant samay bulaavaa aayaa
jel ke andar khaamoshii se devii kii chitaa jalaa_ii
janataa aapanii maa.N ke antim darshan bhii karane naa paa_ii
suno suno ...

9.
hinduu muslim ke siino me.n phira bha.Dakii nafarat kii jvaalaa
jis ko dekh kar dukhii huvaa kuraan aur giitaa kaa matavaalaa
navaakhalii me.n khuun kii holii haivaano.n ne khelii
dayaa kii muurat baapuu se ye pii.Daa ga_ii na jhelii
tan pe la.ngoTii haath me DaNDaa ho.nTho.n pe thii prem kii baanii
nagar-nagar paidal phirataa thaa assii saal kaa buu.Dhaa praaNii
san sai.ntaaliis pandrah agast ko aazaadii kaa din jab aayaa
apane desh me.n apanaa jhaNDaa dhuum-dhaam se laharaayaa
lekin us din pyaaraa baapuu bhaarat kaa ujiyaalaa baapuu
duur dillii se navaakhalii me.n kamazorii kii rakhavaalii me.n
apanii jaan la.Daaye thaa aur apanaa aap chhupaa_e thaa
suno suno ...

10.
kalakatte se dillii aa kar us nagarii kaa maan ba.Dhaayaa
saa.Njha savere raam naam kaa biralaa ghaar me.n diyaa jalaayaa
raghupati raaghava raajaa raam iishvar allaah tere nam
baapuu kaa aadhaar yahii thaa baapuu kaa prachaar yahii thaa
suno suno ...

11.
tiisa janavarii shaam ko baapuu biralaa ghar se baahar aaye
praarthanaa sthaan kii jaanib dhiire-dhiire kadam ba.Dhaaye
lekin us din honii apanaa ruup badal kar aa_ii
aur ahi.nsaa ke siine par hi.nsaa ne golii barasaa_ii
baapuu ne kahaa raam-raam aur jag se kiyaa kinaaraa
raam ke mandir me.n jaa pahu.Nchaa shriiraam kaa pyaaraa
jaa_o baapuu jaa_o baapuu rahegaa naam tumhaaraa
baapuu tum ne praaN diyaa aur maut kii shaan ba.Dhaa_ii
tum ne aapanaa khuun diyaa aur prem kii jyoti jalaa_ii
jay baapuu kii jaya gaa.Ndhii kii bolo sab jan jay gaa.Ndhii
jis ne hinduu muslim me.n ik Dor pyaar kii baa.Ndhii
yaad rahe baapuu kii kahaanii bhuul na isako jaa_e ham
baapuu ne jo diyaa jalaayaa usakii jyoti ba.Dhaa_e.n ham
jay baapuu kii jay gaa.Ndhii kii bolo sab jan jay gaa.Ndhii
jay gaa.Ndhii jay gaa.Ndhii jay gaa.Ndhii jay gaa.Ndhii
suno suno ...