गाना / Title: बेदर्द ज़माना तेरा दुशमन - bedard zamaanaa teraa dushaman

चित्रपट / Film: Mehandi

संगीतकार / Music Director: Ravi

गीतकार / Lyricist: S H Bihari

गायक / Singer(s): हेमंत कुमार-(Hemant Kumar)लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          





हे: मुसीबत का किये जा सामना
    काँटों पे चलता जा
    अगर मंज़िल पे जाना है
    तो गिर गिर के स.म्भलता जा
 



 
हे: (बेदर्द ज़माना तेरा दुशमन है तो क्या है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़ुदा है) - २
 
    (मालिक है वही सब से बड़ा पालनेवाला) -२
     चुँटी को भी देता है जो खाने को निवाला
     बन्दों पे हमेशा ही करम उसका रहा है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़ुदा है  ...
 



 
हे: हज़ारों कारवाँ लुटे गए मंज़िल की राहों में
    जो ग़म का सामना करता गया मंज़िल पे वो पहुँचा
 
हे: (बेदर्द ज़माना तेरा दुशमन है तो क्या है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़ुदा है) - २
 
ल:  ये कैसी ख़ुदाई है बोलो कैसा ख़ुदा है
     लुटती हुई दुनिया जो मेरी देख रहा है
     मैं कैसे भला मानूँ के दुनिया में ख़ुदा है
     अगर है तो कहाँ है
 
हे:  इज़्ज़त भी बची जान बची कैसे ये बोलो
     वो कौन सी ताक़त थी ज़रा दिल को टटोलो
     है जिसका करम हम पे उसी से ये गिला है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़ुदा है ...

हे: (कुछ कम नहीं अपने लिये जीने के सहारे) - २
     ईमान की दौलत है अभी पास हमारे
     ये ऐसा सहारा है जो हर शह से बड़ा है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़्हुदा है ...
 
दो: (बेदर्द ज़माना तेरा दुशमन है तो क्या है
     दुनिया में नहीं जिसका कोई उसका ख़ुदा है) - २
 



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      



he: musiibat kaa kiye jaa saamanaa
    kaa.NTo.n pe chalataa jaa
    agar ma.nzil pe jaanaa hai
    to gir gir ke sa.mbhalataa jaa
 



 
he: (bedard zamaanaa teraa dushaman hai to kyaa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Kudaa hai) - 2
 
    (maalik hai vahii sab se ba.Daa paalanevaalaa) -2
     chu.NTii ko bhii detaa hai jo khaane ko nivaalaa
     bando.n pe hameshaa hii karam usakaa rahaa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Kudaa hai  ...
 



 
he: hazaaro.n kaaravaa.N luTe ga_e ma.nzil kii raaho.n me.n
    jo Gam kaa saamanaa karataa gayaa ma.nzil pe vo pahu.Nchaa
 
he: (bedard zamaanaa teraa dushaman hai to kyaa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Kudaa hai) - 2
 
la:  ye kaisii Kudaa_ii hai bolo kaisaa Kudaa hai
     luTatii hu_ii duniyaa jo merii dekh rahaa hai
     mai.n kaise bhalaa maanuu.N ke duniyaa me.n Kudaa hai
     agar hai to kahaa.N hai
 
he:  izzat bhii bachii jaan bachii kaise ye bolo
     vo kaun sii taaqat thii zaraa dil ko TaTolo
     hai jisakaa karam ham pe usii se ye gilaa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Kudaa hai ...

he: (kuchh kam nahii.n apane liye jiine ke sahaare) - 2
     iimaan kii daulat hai abhii paas hamaare
     ye aisaa sahaaraa hai jo har shah se ba.Daa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Khudaa hai ...
 
do: (bedard zamaanaa teraa dushaman hai to kyaa hai
     duniyaa me.n nahii.n jisakaa ko_ii usakaa Kudaa hai) - 2