गाना / Title: Strawberryआँखें, सोचती क्या हैं - ##Strawberry## aa.Nkhe.n, sochatii kyaa hai.n

चित्रपट / Film: Sapnay

संगीतकार / Music Director: ए. आर. रहमान-(A. R. Rahman)

गीतकार / Lyricist: जावेद अख्तर-(Javed Akhtar)

गायक / Singer(s): K Kayकविता पौडवाल-(Kavita Paudwal)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



के :      Strawberryआँखें, सोचती क्या हैं
          लड़की तुम हो महलों में हो पली
          वो ice creamहो जो है फ़्रिज् में रखी
          तुमने जो भी कहा, वो हमेशा हुआ
          तुम्हें हर चीज़ मिली, mercedesमिली
          फिर भी आँखों में है, कोई ग़म छुपा हुआ
          फिर भी तुम खुश नहीं, बोलो है बात क्या

          ऐं? no reaction? volume doubleकरूँ?
          Strawberryआँखें   ...
          तुम दिल की हर इक बात पे क्यों इतनी हो बेज़ार
          तुम प्यार के सब ख़्वाबों को भी कहती हो बेकार
          पगली कहीं हो तो नहीं
          लाऊँ मैं क्या, कोई दवा?

कविता : कोई पगली वगली नहीं मैं, सुनो
          दवा मुझको न दो, इलाज अपना करो
          मेरे दादा-परदादा भी पागल न थे
          न कोई पागल्पन मुझ में है

          पाऊँ कैसे खुशी अपने ही प्यार में
          जब के है दुःख भरा सारे संसार में
          मुझको ऐसी खुशी से नहीं वासता
          मेरा तो है अलग रास्ता

के :      क्या? शादी नहीं चाहिये?
          तो फिर route change

          आँखों में हैं हीरे चमकते
          चेहरे पर हैं, चाँद दमकते
          गालों में हैं, फूल महकते
          होंठों में हैं कलियाँ गुलाबी
          दिल को बना दें जैसे शराबी
          नाक तो थोड़ी oversizeहै
          It's okay, madam. Plastic surgeryकर देंगे

कविता : मेरी तो नाक जैसी है, तु अपना सर दिखा
          लगता है तेरे सर में है, भूसा भरा हुआ
          किसे पता, किसे खबर, तू आदमी है या बन्दर





        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

ke :      ##Strawberry## aa.Nkhe.n, sochatii kyaa hai.n
          la.Dakii tum ho mahalo.n me.n ho palii
          vo ##ice cream## ho jo hai frij.h me.n rakhii
          tumane jo bhii kahaa, vo hameshaa huaa
          tumhe.n har chiiz milii, ##mercedes## milii
          phir bhii aa.Nkho.n me.n hai, koii Gam chhupaa huaa
          phir bhii tum khush nahii.n, bolo hai baat kyaa

          ai.n? ##no reaction? volume double## karuu.N?
          ##Strawberry## aa.Nkhe.n   ...
          tum dil kii har ik baat pe kyo.n itanii ho bezaar
          tum pyaar ke sab Kvaabo.n ko bhii kahatii ho bekaar
          pagalii kahii.n ho to nahii.n
          laa_uu.N mai.n kyaa, koii davaa?

kavitaa : koii pagalii vagalii nahii.n mai.n, suno
          davaa mujhako na do, ilaaj apanaa karo
          mere daadaa-paradaadaa bhii paagal na the
          na koii paagalpan mujh me.n hai

          paa_uu.N kaise khushii apane hii pyaar me.n
          jab ke hai duHkh bharaa saare sa.nsaar me.n
          mujhako aisii khushii se nahii.n vaasataa
          meraa to hai alag raastaa

ke :      kyaa? shaadii nahii.n chaahiye?
          to phir ##route change##

          aa.Nkho.n me.n hai.n hiire chamakate
          chehare par hai.n, chaa.Nd damakate
          gaalo.n me.n hai.n, phuul mahakate
          ho.nTho.n me.n hai.n kaliyaa.N gulaabii
          dil ko banaa de.n jaise sharaabii
          naak to tho.Dii ##oversize## hai
          ##It's okay, madam. Plastic surgery## kar de.nge

kavitaa : merii to naak jaisii hai, tu apanaa sar dikhaa
          lagataa hai tere sar me.n hai, bhuusaa bharaa huaa
          kise pataa, kise khabar, tuu aadamii hai yaa bandar