गाना / Title: आज कल पाँव ज़मीं पर नहीं पड़ते मेरे - aaj kal paa.Nv zamii.n par nahii.n pa.Date mere

चित्रपट / Film: घर-(Ghar)

संगीतकार / Music Director: राहुलदेव बर्मन-(R D Burman)

गीतकार / Lyricist: गुलजार-(Gulzar)

गायक / Singer(s): लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



(आज कल पाँव ज़मीं पर नहीं पड़ते मेरे
 बोलो देखा है कभी तुमने मुझे उड़ते हुए) -२
आज कल पाँव ज़मीं पर नहीं पड़ते मेरे

जब भी थामा है तेरा हाथ तो देखा है -२
लोग कहते हैं के बस हाथ की रेखा है
हमने देखा है दो तक़दीरों को जुड़ते हुए
आज कल पाँव...

नींद सी रहती है, हलका सा नशा रहता है
रात-दिन आँखों में इक चहरा बसा रहता है
पर लगी आँखों को देखा है कभी उड़ते हुए
आज कल पाँव...

जाने क्या होता है हर बात पे कुछ होता है
दिन में कुछ होता है और रात में कुछ होता है
थाम लेना जो कभी देखो हमें उड़ते हुए
आज कल पाँव...

आज कल पाँव ज़मीं पर नहीं पड़ते मेरे



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

(aaj kal paa.Nv zamii.n par nahii.n pa.Date mere
 bolo dekhaa hai kabhii tumane mujhe u.Date hue) -2
aaj kal paa.Nv zamii.n par nahii.n pa.Date mere

jab bhii thaamaa hai teraa haath to dekhaa hai -2
log kahate hai.n ke bas haath kii rekhaa hai
hamane dekhaa hai do taqadiiro.n ko ju.Date hue
aaj kal paa.Nv...

nii.nd sii rahatii hai, halakaa saa nashaa rahataa hai
raat-din aa.Nkho.n me.n ik chaharaa basaa rahataa hai
par lagii aa.Nkho.n ko dekhaa hai kabhii u.Date hue
aaj kal paa.Nv...

jaane kyaa hotaa hai har baat pe kuchh hotaa hai
din me.n kuchh hotaa hai aur raat me.n kuchh hotaa hai
thaam lenaa jo kabhii dekho hame.n u.Date hue
aaj kal paa.Nv...

aaj kal paa.Nv zamii.n par nahii.n pa.Date mere