गाना / Title: मेरे चारों तरफ़ ... मैं तनहा था - mere chaaro.n taraf ... mai.n tanahaa thaa

चित्रपट / Film: Zebo (Pakistani-Film)

संगीतकार / Music Director: Khurshid Anwar

गीतकार / Lyricist: Qateel Shifai

गायक / Singer(s): Mehdi Hasan

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



मेरे चारों तरफ़ ज़मज़में, क़हक़हे, सरख़ुशी है
मेरे चारों तरफ़ ज़िंदगैइ ज़िंदगैइ ज़िंदगैइ है
पर ऐ दिल बता के मैं कब तलक इससे मुँह मोड़ कर
अपने माज़ी की यादों से लिपटा रहूँगा
मैं तनहा था, तनहा हूँ, तनहा रहूँगा
कब तलक

यूँ लगता है जैसे मेरी सोच के साये
नाच रहे हैं आज पहन कर जिस्म पराये
तू भी झूम ले, झूम ले, झूम ले
तू भी झूम ले हर साया ये कहता है
अरे पगले कौन अलग ख़ुशियों से रहता है
पर ऐ दिल बता
ऐ दिल बता के मैं कब तलक हर ख़ुशी से अलग
अपनी तनहाईयों में भटकता रहूँगा
मैं तनहा था, तनहा हूँ, तनहा रहूँगा
कब तलक -२

आज ये कैसे सुन्दर सपने देख रहा हूँ
ग़ैरों की महफ़िल में अपने देख रहा हूँ
नर्म रेशमी बाज़ू बाज़ू बाज़ू
नर्म रेशमी बाज़ू मुझे बुलाते हैं
हाय आने वाले कल के ख़ाब दिखाते हैं
पर ऐ दिल बता
ऐ दिल बता के मैं कब तलक अपनी उजड़े हुये कल के
मातम में आँसू बहाता रहूँगा
मैं तनहा था, तनहा हूँ, तनहा रहूँगा
कब तलक -३



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

mere chaaro.n taraf zamazame.n, qahaqahe, saraKushii hai
mere chaaro.n taraf zi.ndagaii zi.ndagaii zi.ndagaii hai
par ai dil bataa ke mai.n kab talak isase mu.Nh mo.D kar
apane maazii kii yaado.n se lipaTaa rahuu.Ngaa
mai.n tanahaa thaa, tanahaa huu.N, tanahaa rahuu.Ngaa
kab talak

yuu.N lagataa hai jaise merii soch ke saaye
naach rahe hai.n aaj pahan kar jism paraaye
tuu bhii jhuum le, jhuum le, jhuum le
tuu bhii jhuum le har saayaa ye kahataa hai
are pagale kaun alag Kushiyo.n se rahataa hai
par ai dil bataa
ai dil bataa ke mai.n kab talak har Kushii se alag
apanii tanahaa_iiyo.n me.n bhaTakataa rahuu.Ngaa
mai.n tanahaa thaa, tanahaa huu.N, tanahaa rahuu.Ngaa
kab talak -2

aaj ye kaise sundar sapane dekh rahaa huu.N
Gairo.n kii mahafil me.n apane dekh rahaa huu.N
narm reshamii baazuu baazuu baazuu
narm reshamii baazuu mujhe bulaate hai.n
haay aane waale kal ke Kaab dikhaate hai.n
par ai dil bataa
ai dil bataa ke mai.n kab talak apanii uja.De huye kal ke
maatam me.n aa.Nsuu bahaataa rahuu.Ngaa
mai.n tanahaa thaa, tanahaa huu.N, tanahaa rahuu.Ngaa
kab talak -3