गाना / Title: मचलती हुई हवा में छम छम - machalatii huii havaa me.n chham chham

चित्रपट / Film: Ganga Ki Lahren

संगीतकार / Music Director: Chitragupt

गीतकार / Lyricist: मजरूह सुलतान पुरी-(Majrooh)

गायक / Singer(s): किशोर कुमार-(Kishore Kumar)लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

Lyrics in English - ASCII
देवनागरी बोल :
          



ल: आ आ आ, आ आ
कि: ओ हो हो, हो हो
    (मचलती हुई, हवा में छम छम
     हमारे संग संग चलें गँगा की लहरें)	\- २
ल: ओ, ज़माने से कहो, अकेले नहीं हम
    हमारे संग संग चलें गँगा की लहरें
कोरस: ज़माने से कहो ...

कि: (हरियाली सी, छा जाती है
     छाँव में इन के आँचल की)	\- २
ल: सर को झुका के, नाम लो इन के
    ये तो है शक्ती निरबल की
    हिमालय ने भी चूमे हैं इन के क़दम
कोरस: मचलती हुई, ...
     ज़माने से कहो ...

ल: (सुख में डूबा, तन मन उस का
     आया जो इन के आँगन में)	\- २
कि: प्यार का पहला, दर्पन देखा
    दुनिया ने इन के दर्शन में
    के यूँ ही नहीं खाते हम इन की क़सम
कोरस: ज़माने से कहो ...
    मचलती हुई ...

कि: (साथ दिया है, इन लहरों ने
     जब सब ने मुँह फेर लिया)	\- २
ल: और कभी जब, ग़म की जलती
    धूप ने हम को घेर लिया
    तो आओ इन के ही क़दमों में झुक जाएं हम
कोरस: मचलती हुई ...
    ज़माने से कहो ...



        

Related content:

Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
      

la: aa aa aa, aa aa
ki: o ho ho, ho ho
    (machalatii huii, havaa me.n chham chham
     hamaare sa.ng sa.ng chale.n ga.Ngaa kii lahare.n)	\- 2
la: o, zamaane se kaho, akele nahii.n ham
    hamaare sa.ng sa.ng chale.n ga.Ngaa kii lahare.n
koras: zamaane se kaho ...

ki: (hariyaalii sii, chhaa jaatii hai
     chhaa.Nv me.n in ke aa.Nchal kii)	\- 2
la: sar ko jhukaa ke, naam lo in ke
    ye to hai shaktii nirabal kii
    himaalay ne bhii chuume hai.n in ke qadam
koras: machalatii huii, ...
     zamaane se kaho ...

la: (sukh me.n Duubaa, tan man us kaa
     aayaa jo in ke aa.Ngan me.n)	\- 2
ki: pyaar kaa pahalaa, darpan dekhaa
    duniyaa ne in ke darshan me.n
    ke yuu.N hii nahii.n khaate ham in kii qasam
koras: zamaane se kaho ...
    machalatii huii ...

ki: (saath diyaa hai, in laharo.n ne
     jab sab ne mu.Nh pher liyaa)	\- 2
la: aur kabhii jab, Gam kii jalatii
    dhuup ne ham ko gher liyaa
    to aao in ke hii qadamo.n me.n jhuk jaae.n ham
koras: machalatii huii ...
    zamaane se kaho ...